ऑनलाइन कैसीनो असली पैसा पेपैल

Publishing time:2021-10-29 01:24:13

लकी लॉटरी बेटिंग स्टेशन कैसे खोलें ऑनलाइन कैसीनो असली पैसा पेपैल betway स्पिन और जीत,लियोवेगास गेमिंग लिमिटेड,lovebet ए वीपीएन,lovebet लाइव,lovebet वेरिफाई अकाउंट,एक शतरंज खिलाड़ी क्रॉसवर्ड सुराग,बैकरेट शतरंज,बैकारेट रूज 540 कीमत,बेटिंग एजेंसी URL,कैसीनो 06,कैसीनो आरडी,चेसबॉट 0 80,क्रिकेट क्षेत्ररक्षण स्थिति,डिग्री लॉटरी,यूरोपीय कप भविष्यवाणी सुअर,फुटबॉल हैंडीकैप ऑड्स एल्गोरिथम,गेमिंग नेविगेशन स्टेशन,एचडी कैसीनो लोगो,इनडोर वर्चुअल क्रिकेट,जैकपॉट हीरो गेम,लाइव लाठी ऑस्ट्रेलिया reddit,लाइव रूले मोबाइल,लॉटरी सांबद 2019,मोबाइल लॉटरी सट्टेबाजी,ऑनलाइन कैसीनो मर्कुरू,ऑनलाइन पैसे जुआ नेविगेशन,फ़ुटबॉल सट्टेबाजी साइट पर खाता खोलें,पोकर बाइक,पूल रम्मी एक्सबॉक्स,शाही खोखला,रम्मी मॉडल,स्क्रिल वाई लवबेट,स्लॉट्स वेगास कैसीनो,स्पोर्ट्स यूट्यूब चैनल के नाम,टेस्को ऑनलाइन क्रिसमस स्लॉट,रम्मी सर्कल,लाइव ब्लैकजैक देखें,वर्ल्ड कप वीडियो,आईपीएल मैच लिस्ट,कैसीनो ऐप,खेलो पर जुआ video,जोकर पिक,फुटबॉल चित्र,बेटा घर पर,लूडो लूडो गोल्ड,स्पोर्ट्स खेल, .नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

देश के संगठित रिटेल सेक्‍टर में पांच करोड़ लोगों को रोजगार मिला हुआ है.
नई दिल्ली : एक मजबूत नेशनल रिटेल पॉलिसी सेक्‍टर में जान फूंक सकती है. इससे देश में 2024 तक 30 लाख अतिरिक्त रोजगार के अवसर पैदा होंगे. उद्योग संगठन सीआईआई की रिटेल पर नेशनल कमेटी के चेयरमैन शाश्‍वत गोयनका ने यह बात कही.

सीआईआई इंडिया रिटेल समिट-2020 को संबोधित करते हुए गोयनका ने कहा कि नेशनल रिटेल पॉलिसी से यह क्षेत्र उबर सकेगा. आने वाले वर्षों में जोरदार ग्रोथ दर्ज कर पाएगा. गोयनका आरपी-संजीव गोयनका समूह के प्रमुख (रिटेल एंड एफएमसीजी) भी हैं. उद्योग के अनुमान के अनुसार, देश के संगठित रिटेल सेक्‍टर में पांच करोड़ लोगों को रोजगार मिला हुआ है.

इसे भी पढ़ें : दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन

शाश्‍वत बोले, ''आगे चलकर जब उद्योग अपने निचले स्तर से उबरेगा. ऐसे समय में सुधार की प्रक्रिया को तेज करने के लिए नए और उभरते मॉडल पर चर्चा करने की जरूरत होगी. उद्योग अब भी मांग में कमी की वजह से हुए नुकसान से उबर नहीं पाया है. ऐसे में उपभोक्ताओं का भरोसा कायम करने के लिए सक्रिय कदमों की जरूरत होगी.''

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें : अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

गोयनका बोले, ''आज पहले की तुलना में कहीं अधिक नेशनल रिटेल पॉलिसी के साथ अनुकूल वातावरण पैदा करने की जरूरत है. सरकार मजबूत रिटेल पॉलिसी लाकर सेक्‍टर की ग्रोथ बढ़ा सकती है. इससे 2024 तक 30 लाख अतिरिक्त रोजगार के अवसर पैदा हो सकते हैं. इसके अलावा इससे जुड़े क्षेत्रों में रोजगार के अप्रत्यक्ष अवसर भी पैदा किए जा सकते हैं.''

उन्होंने बताया कि शोध से पता चलता है कि रिटेल से जुड़े बुनियादी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर जैसे वेयरहाउस और कोल्‍ड स्‍टोरेज इत्‍याद‍ि में सिर्फ 6,500 करोड़ रुपये के निवेश से दो से तीन लाख अतिरिक्त रोजगार पैदा किए जा सकते हैं. इसी कार्यक्रम में उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के संयुक्त सचिव अनिल अग्रवाल ने बताया कि सरकार रिटेल पॉलिसी पर काम कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

नेशनल र‍िटेल पॉलिसीशाश्‍वत गोयनका30 लाख नौकरीरोजगार के अवसरसीआईआई

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read
नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.कितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.रेलवे में 1.40 लाख पदों पर भर्ती के लिए 15 दिसंबर से शुरू होगी परीक्षा

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


लॉटरी पुराना परिणाम रात
बैकारेट गेम ऑनलाइन
स्लॉट मशीन ऑड्स कैलकुलेटर
क्रिकेट उमेश
casumo ऑड्स
Sportsdirect.com बिक्री
पैरिमैच ऐप रिव्यू
188bet लिंक अल्टरनेटिफ लॉगिन
बेताब ऑल सॉन्ग
पोकर वाई कैलाबुथ पेलिया
188bet फिलीपींस
लेवेगास समीक्षा
जोकर वॉलपेपर डाउनलोड
21 बजे exam
लियोवेगास
जोकर खान
शतरंज 5 चाल चेकमेट
आईपीएल कब होगा
हमें ऐप से प्यार करें
बैकरेट मूल डेटा
रामचंद्र गुहा क्रिकेट बुक
यूरोपीय जुआ कौन करता है?
मॉरीशस में लॉटरी के नतीजे आज
जंगल रम्मी.कॉम अनलॉक फीचर
तीन पत्ती अनलिमिटेड चिप्स
पोकर हाथ अर्थ
बैकरेट सोने का सिक्का खेल