खेलो पर जुआ in english

खेलो पर जुआ in english

time:2021-10-26 01:06:07 देश में बिजली की कमी नहीं: आर के सिंह Views:4591

करीना मटका खेलो पर जुआ in english 188bet मालिक,casumo यिलौता,lovebet 2 लिगा,lovebet फुटबॉल टीम,lovebet रजिस्टर,lovebetी अभेद्य राष्ट्रीय उद्यान,बैकारेट 3 स्टेप नाइफ शार्पनर,बैकारेट एल कैटरटन,बेल्टवे 8 क्लोजर,बीएच लॉटरी परिणाम,कैसीनो पूर्वानुमान 10 दिन,च स्पोर्ट्सवियर,क्रिकेट 3डी गेम,क्रिकेट स्कोर भारत बनाम इंग्लैंड,एस्पोर्ट्स लोगो फॉन्ट,फ़ुटबॉल 2021 लाइव,फुटबॉल वेबसाइट,गनमैन कैसीनो डकैती,बैकरेट रूले कैसे खेलें,क्या बैकारेट ऑनलाइन खेलना अवैध है?,जंगल रम्मी tncs,लाइव कैसीनो लातविया,लॉटरी जिला कार्यालय,लूडो लॉर्ड,ओडिबेट्स लॉगिन,ऑनलाइन गेम एस्केप रूम,ऑनलाइन रियल मनी एंटरटेनमेंट प्लेटफॉर्म,परिमच यूट्यूब,पोकर qq,baccarat का रोड मैप,रम्मी १३ पत्ती,रम्मीकल्चर सुरक्षित है या नहीं,स्लॉट मशीन.कॉम,खेल फुटबॉल सट्टेबाजी,स्टैंड-अलोन बैकारेट,बैकारेट में बेटिंग का सबसे अच्छा तरीका,यूईएफए चैंपियंस लीग मकाऊ,बकारट के लिए कौन सा बेहतर है?,21 बजे tv,ऑनलाइन पैसे बनाएं in hindi,क्रिकेट की ताज़ा ख़बरें,गोवा लॉकडाउन,तीन पत्ती रूल्स,बकरी ध्वनि,बैकारेट में जीतने या हारने की प्रायिकता,स्टेटस एचडी, .देश में बिजली की कमी नहीं: आर के सिंह

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) विद्युत संयंत्रों में कोयले की कमी के बीच बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को भरोसा जताया कि देश में बिजली की कोई कमी नहीं होगी। साथ ही उन्होंने बिजली आपूर्ति के लिये वितरण इकाइयों द्वारा उत्पादक कंपनियों को समय पर भुगतान पर जोर दिया।

देश भर में तापीय बिजली घरों में कोयले की कमी को देखते हुए मंत्री का यह बयान महत्वपूर्ण है।

एक्सचेंज में नवीकरणीय ऊर्जा की बिक्री के लिये एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार (ग्रीन डे अहेड मार्केट) की ‘ऑनलाइन’ शुरुआत करने के बाद सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘...बिजली की कोई कमी नहीं है। कल बिजली की कोई कटौती नहीं हुई। बिजली की कमी न पहले कभी हुई है और न आगे होगी। अगर कुछ कटौती होती भी है तो यह हमारी अपनी (राज्यों के स्तर पर) समस्या होगी।’’

उन्होंने कहा कि बिजली घरों के पास फिलहाल 80 लाख टन से अधिक कोयला है।

केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) की रिपोर्ट के अनुसार तापीय बिजली घरों में 23 अक्टूबर, 2021 को 81 लाख टन कोयला था, जो चार दिनों के लिये पर्याप्त है। सीईए 135 संयंत्रों पर नजर रखता है, जिनकी क्षमता 1,65,000 मेगावाट है।

कोल इंडिया के बकाये के बारे में सिंह ने कहा, ‘‘करीब 16,000 करोड़ रुपये कोल इंडिया को भुगतान किया जाना है...जबतक वितरण कंपनियां बिजली उत्पादक कंपनियों को भुगतान नहीं करती, वे (उत्पादक कंपनियां) भुगतान करने में असमर्थ हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सभी उत्पादक कंपनियों (सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को छोड़कर) का बकाया 75,000 करोड़ रुपये है। ऐसे में आप कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि उत्पादक कंपनियां कोयला या रेलवे को भुगतान करेंगी? यह लंबे समय तक चलने वाली व्यवस्था नहीं है। हर राज्य को यह समझना होगा कि बिजली मुफ्त नहीं है।’’

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) रसायनों का विनिर्माण करने वाली एसआरएफ लिमिटेड ने सोमवार को बताया कि उच्च आय प्राप्ति के कारण सितंबर में समाप्त तिमाही के दौरान उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 21 प्रतिशत बढ़कर 382.45 करोड़ रुपये रहा। कंपनी ने एक साल पहले 2020-21 की समान तिमाही में 315.20 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। एसआरएफ की कुल आय चालू वित्तवर्ष की दूसरी तिमाही में बढ़कर 2,850.09 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि में 2,110.58 करोड़ रुपये थी।क्‍या आप 2021 में कार खरीदने की योजना बना रहे हैं? अगर हां तो कारदेखो डॉट कॉम के साथ हम यहां आपको कुछ शानदार विकल्‍पों के बारे में बता रहे हैं. कार के ये मॉडल इस साल लॉन्‍च हो सकते हैं. हमने यहां 7-15 लाख रुपये की कैटेगरी में सबसे अच्‍छी कारों को चुना है.एयरटेल ने स्पेक्ट्रम, एजीआर भुगतान के लिये चार साल की मोहलत का विकल्प चुना

हाल में इनपुट कॉस्‍ट में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए मारुति सुजुकी इंडिया, रेनॉ इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, फोर्ड इंडिया, इसुजु, बीएमडब्ल्यू इंडिया, ऑडी इंडिया और हीरो मोटो कार्प जैसी वाहन कंपनियां पहले ही जनवरी से कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर चुकी हैं.मुंबई, 25 अक्टूबर (भाषा) भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 9.5 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। बीते वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। स्विस ब्रोकरेज कंपनी यूबीएस सिक्योरिटीज इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था और रफ्तार पकड़ेगी। हालांकि, अगले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर घटकर 7.7 प्रतिशत रहेगी। सरकार ने बजट में चालू वित्त वर्ष में अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमानमौजूदा तिमाही में नियुक्ति गतिविधियां बढ़ी: रिपोर्ट

मुंबई, 25 अक्टूबर (भाषा) भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 9.5 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। बीते वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। स्विस ब्रोकरेज कंपनी यूबीएस सिक्योरिटीज इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था और रफ्तार पकड़ेगी। हालांकि, अगले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर घटकर 7.7 प्रतिशत रहेगी। सरकार ने बजट में चालू वित्त वर्ष में अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमानपिछले तीन महीनों में वाहनों को बनाने में लगने वाले कच्‍चे माल की कीमतें बढ़ी हैं. इससे वाहनों के दाम 10-15 फीसदी तक बढ़े हैं.टेक महिंद्रा ने 789 करोड़ रुपये में लोडस्टोन का अधिग्रहण किया

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
करुणा तोर मया जिंदाबाद

क्‍या इस वैलेंटाइन डे पर अपने पाटर्नर को खुश करने के लिए आपने गिफ्ट सेलेक्‍ट कर लिया है? नहीं, तो यहां हम आपको ट्रेडिशनल गिफ्ट से अलग हटकर कुछ ऐसे तोहफों के बारे में बता रहे हैं जो शायद आपके साथी को खूब पसंद आए.

कैसे बैकारेट लंबे ड्रेगन के उद्भव का न्याय करता है

क्‍या आप 2021 में कार खरीदने की योजना बना रहे हैं? अगर हां तो कारदेखो डॉट कॉम के साथ हम यहां आपको कुछ शानदार विकल्‍पों के बारे में बता रहे हैं. कार के ये मॉडल इस साल लॉन्‍च हो सकते हैं. हमने यहां 7-15 लाख रुपये की कैटेगरी में सबसे अच्‍छी कारों को चुना है.

lovebet लाइव

क्‍या आप 2021 में कार खरीदने की योजना बना रहे हैं? अगर हां तो कारदेखो डॉट कॉम के साथ हम यहां आपको कुछ शानदार विकल्‍पों के बारे में बता रहे हैं. कार के ये मॉडल इस साल लॉन्‍च हो सकते हैं. हमने यहां 7-15 लाख रुपये की कैटेगरी में सबसे अच्‍छी कारों को चुना है.

lovebet द्वि कांग्रेस एक बात

हाल में इनपुट कॉस्‍ट में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए मारुति सुजुकी इंडिया, रेनॉ इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, फोर्ड इंडिया, इसुजु, बीएमडब्ल्यू इंडिया, ऑडी इंडिया और हीरो मोटो कार्प जैसी वाहन कंपनियां पहले ही जनवरी से कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर चुकी हैं.

फुटबॉल मैच विश्लेषण नेटवर्क

जयपुर, 25 अक्टूबर (भाषा) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को राज्य सरकार द्वारा आगामी जनवरी माह में जयपुर के सीतापुरा स्थित जयपुर एक्जिबिशन एंड कन्वेंशन सेंटर (जेईसीसी) में आयोजित होने वाली स्टेट इन्वेस्टर समिट ‘इन्वेस्ट राजस्थान 2022‘ की तैयारियों की समीक्षा की। गहलोत ने कहा कि निवेशक सम्मेलन की तैयारियां अच्छी हों एवं इसके सफल आयोजन के लिए विभिन्न देशों के दूतावासों से सम्पर्क किया जाए। बैठक में उद्योग विभाग के सचिव आशुतोष एटी पेंडनेकर

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी