बैकारेट जीतने का फॉर्मूला

बैकारेट जीतने का फॉर्मूला

time:2021-10-29 01:38:34 पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी Views:4591

च जय लवबेटो बैकारेट जीतने का फॉर्मूला 188bet एपीके २०२१,casumo कोंटो लोशेन,लीवगैस निकासी लंबित,lovebet जमा सीमा,lovebet खुलने का समय,lovebet.com भविष्यवाणी,एयू क्रिकेट समाचार,बैकरेट गेम सॉफ्टवेयर डाउनलोड,बैकारेट विजेता गुप्त पुस्तक,बेटिंग प्लेटफॉर्म,कैसीनो दा मदीरा,कैसीनो एक्स украина,कॉम फुटबॉल स्टेडियम,क्रिकेट शुद्ध कीमत,एस्पोर्ट्स एरिना,फाफाफा,फुटबॉल सिफारिश नेटवर्क,जेनेसिसकैसीनो होम,कैसीनो बाधाओं की गणना कैसे करें,आईपीएल कार्यक्रम,जैकपॉटजॉय और वर्जिन गेम्स,लाइव कैसीनो लाठी वीडियो,लॉटरी 6 6 2021,लूडो एपीके डाउनलोड,नेल्सन क्रिकेट बुक ए नेट,ऑनलाइन मनोरंजन खेल,ऑनलाइन पोकर प्ले,पैरिमैच मनी विदड्रॉल,पोकर किंग मालिक,रील स्लॉट लॉगिन,6 . का नियम,रम्मी जेड गेम,स्लॉट मशीन के पुर्जे,खेल औ,चार्ल्सटन की स्पोर्ट्सबुक,टेक्सास होल्डम क्वांटोस बरलहोस,कर्षण कैसीनो दिन,कहां है सट्टा सिस्टम,याकूब 0 पोकर स्थान,ऑनलाइन गेम jio,क्रिकेट live video,गोवा ढोकली नू शाक,तीन पत्ती इमेज,बकरा खाने से क्या फायदा,बेताब दिल की तमन्ना सीरियल,लॉटरी संबाद, .पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी

कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है.
कोलकाता : पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस अपने 5-7 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है. कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है. इस तरह पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस भी उन कंपनियों में शामिल हो गई है जिन्‍होंने पिछले छह महीनों में अपने कर्मचारियों की संख्‍या घटाई है.

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

इसे भी पढ़ें : पुराने कर्मचारियों को नौकरी पर बुला रही हैं आईटी कंपनियां

मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि कंपनी ने 80-100 लोगों को इस्‍तीफा देने के लिए कहा है. कर्ज देने वाली इस कंपनी का मार्केटकैप 4,863 करोड़ रुपये का है. इस पर 68 हजार करोड़ रुपये का लोन बकाया है. छंटनी से पहले देश के विभिन्न राज्‍यों में इसके 1500 कर्मचारी थे.

इस मामले पर ईटी के सवाल के जवाब में कंपनी ने कहा, ''हम अपने संसाधनों को दोबारा एलोकेट करने की प्रक्रिया में हैं. इसका मकसद पीएनबी हाउसिंग को सतत ग्रोथ की राह पर ले जाना है. इन कोशिशों में बहुत मुश्किल फैसले लेने पड़ रहे हैं. कार्यबल में सीमित संख्‍या में बदलाव भी इसका हिस्‍सा है. हालांकि, बताई गई संख्‍या सही नहीं है. यह बढ़ाचढ़ाकर दिखाई गई है.''

इसे भी पढ़ें : दो साल में इन 8 क्षेत्रों में होंगे नौकरी के खूब मौके

क्‍या कंपनी ने अपने सीनियर मैनेजमेंट को सालाना बोनस और इंक्रीमेंट दिया है, इस सवाल के जवाब में पीएनबी हाउसिंग ने कहा, ''कोरोना की महामारी से उपजी असाधारण स्थितियों के चलते कंपनी पहली तिमाही में ऐसा कर पाने में असमर्थ थी. अभी इसकी समीक्षा की जा रही है. समय के साथ इसके बारे में एलान किया जाएगा.''

पूंजी की कमी के चलते कंपनी का कारोबार पिछले साल से ही घटना शुरू हो गया था. जून तिमाही में डिस्‍बर्समेंट (लोन वितरण) 91 फीसदी घटकर 694 करोड़ रुपये रह गया. पिछले साल की इसी अवधि में यह 7,634 करोड़ रुपये था.

32.7 फीसदी होल्डिंग के साथ पीएनबी इस कंपनी की प्रमोटर है. उसने बीते महीने मॉर्गेज लोन देने वाली कंपनी में 600 करोड़ रुपये की पूंजी डालने का एलान किया था. कंपनी तरजीही आवंटन या शेयरों के राइट्स इश्‍यू के जरिये भी 1800 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने के बारे में विचार कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंसकर्मचारियों की छंटनीकोरोना की महामारीपीएनबीछंटनी

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

देश में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर स्थिति बहुत साफ नहीं है. कर्मचारी और कंपनियां दोनों इसे लेकर टैक्‍स के बारे में चिंतित हैं.अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी

आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लाइव कैसीनो आभासी रोस्टर

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.

उत्पत्ति कैसीनो लंबित निकासी

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.

चेसन सेंट डायनेला

आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.

ऑनलाइन पैरामाउंट कैसीनो

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.

lovebet 25

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी