पैसे जीतने के लिए ऑनलाइन बैकरेट

Publishing time:2021-10-26 00:27:40

पैरिमैच टिप्स पैसे जीतने के लिए ऑनलाइन बैकरेट betway का पराठा,fun88.fun88 मोबाइल,lovebet 6 शूटर,lovebet जैकपॉट 5 भविष्यवाणियां चुनें,lovebet टीआर गिरीş,365 मनोरंजन मंच,बैकरेट सट्टेबाजी,बैकारेट प्रेडिक्टिव मेथड,सीबीएसई कक्षा 10 2020 के लिए पांच नियमों में से सर्वश्रेष्ठ,c скачать lovebet,मेरे पास कैसीनो अभी खुला है,शतरंज न नियामो गुजराती मां,क्रिकेट क्लोज कोवेंट्री,क्यू फुटबॉल शेड्यूल,यूरोपीय कप फुटबॉल लाइव वीडियो,फुटबॉल क्लब सुपर लीग,जुआ खेल baccarat,खुश किसान पियानो,भारत लवबेट सी,जैकपॉट डाइनिंग,नवीनतम नकद शतरंज,लाइव ऑनलाइन गेम,लॉटरी नागिन,m.fun88 एशिया,ऑनलाइन कैसीनो erfahrungen,ऑनलाइन गेम हाँ वह पोशाक,ऑनलाइन स्लॉट असली पैसा,पोकर 6 अधिकतम स्थिति,पोकर जिंगा हैक,रूले कौशल,रम्मी सर्कल में रम्मी,सबा ऑनलाइन मनोरंजन खाता खोलना,स्लॉट एलवी नो डिपॉजिट बोनस कोड 2021,खेल शॉर्ट्स,तीन पत्ती ऑक्ट्रो,लवबेट स्टेडियम,आभासी क्रिकेट परिणाम,विलियम हिल इंटरनेशनल,sports अमर उजाला,किरकेट वीडियो,खेल लॉटरी ep7,जैकेट जींस वाली,पोकर टेबल,बेटवा ने साइकिल मोड बने हैंडल,रूले kaise jite,स्टेटस मीनिंग इन हिंदी, .देश में बिजली की कमी नहीं: आर के सिंह

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

देश में बिजली की कमी नहीं: आर के सिंह

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) विद्युत संयंत्रों में कोयले की कमी के बीच बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को भरोसा जताया कि देश में बिजली की कोई कमी नहीं होगी। साथ ही उन्होंने बिजली आपूर्ति के लिये वितरण इकाइयों द्वारा उत्पादक कंपनियों को समय पर भुगतान पर जोर दिया।

देश भर में तापीय बिजली घरों में कोयले की कमी को देखते हुए मंत्री का यह बयान महत्वपूर्ण है।

एक्सचेंज में नवीकरणीय ऊर्जा की बिक्री के लिये एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार (ग्रीन डे अहेड मार्केट) की ‘ऑनलाइन’ शुरुआत करने के बाद सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘...बिजली की कोई कमी नहीं है। कल बिजली की कोई कटौती नहीं हुई। बिजली की कमी न पहले कभी हुई है और न आगे होगी। अगर कुछ कटौती होती भी है तो यह हमारी अपनी (राज्यों के स्तर पर) समस्या होगी।’’

उन्होंने कहा कि बिजली घरों के पास फिलहाल 80 लाख टन से अधिक कोयला है।

केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) की रिपोर्ट के अनुसार तापीय बिजली घरों में 23 अक्टूबर, 2021 को 81 लाख टन कोयला था, जो चार दिनों के लिये पर्याप्त है। सीईए 135 संयंत्रों पर नजर रखता है, जिनकी क्षमता 1,65,000 मेगावाट है।

कोल इंडिया के बकाये के बारे में सिंह ने कहा, ‘‘करीब 16,000 करोड़ रुपये कोल इंडिया को भुगतान किया जाना है...जबतक वितरण कंपनियां बिजली उत्पादक कंपनियों को भुगतान नहीं करती, वे (उत्पादक कंपनियां) भुगतान करने में असमर्थ हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सभी उत्पादक कंपनियों (सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को छोड़कर) का बकाया 75,000 करोड़ रुपये है। ऐसे में आप कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि उत्पादक कंपनियां कोयला या रेलवे को भुगतान करेंगी? यह लंबे समय तक चलने वाली व्यवस्था नहीं है। हर राज्य को यह समझना होगा कि बिजली मुफ्त नहीं है।’’

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read
देश में बिजली की कमी नहीं: आर के सिंह

शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) जियोफोन नेक्स्ट 4जी स्मार्टफोन की देश के करीब 30 करोड़ 2जी उपयोगकर्ताओं को लक्षित करने की योजना है और इसके तहत इस फोन में खास सुविधा होगी जो अलग-अलग क्षेत्रीय भाषा के लोगों को एक-दूसरे के साथ बातचीत करने में सक्षम बनाएगी। जियो प्लेटफॉर्म्स और गूगल द्वारा मिलकर बनाया जा रहा जियोफोन नेक्स्ट स्मार्टफोन भारत में निर्मित स्मार्टफोन होगा और उसे दीवाली से पहले बाजार में उतारा जा सकता है। जियोफोन नेक्स्ट एक नये ऑपरेटिंग सिस्टम (ओएस) - प्रगति ओएस - से चलेगा जिसे संयुक्त रूप से जियो और गूगल द्वारा विकसित किया गया है। दूरसंचारटेक महिंद्रा ने 789 करोड़ रुपये में लोडस्टोन का अधिग्रहण किया

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी टेक महिंद्रा ने सोमवार को लोडस्टोन के अधिग्रहण की घोषणा की। यह नयी पीढ़ी की डिजिटल कंपनियों को इंजीनियरिंग गुणवत्ता की गारंटी प्रदान करने वाली कंपनी है। यह सौदा 10.5 करोड़ डॉलर यानी करीब 789 करोड़ रुपये में हुआ है। मुंबई की कंपनी ने कहा कि उसने 94 लाख डॉलर या करीब 97 करोड़ रुपये में डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू बाय बॉर्न लंदन लि. यूके का भी अधिग्रहण किया है। शेयर बाजारों को कंपनी ने यह जानकारी दी है। टेक महिंद्रा ने कहा कि इन्फोस्टार एलएलसी (लोडस्टोन) के अधिग्रहण से उसकी डिजाइन, निर्माण और परीक्षणभारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.मौजूदा तिमाही में नियुक्ति गतिविधियां बढ़ी: रिपोर्ट

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) कपड़ा मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि उसने सड़कों, राजमार्गों, रेलवे और जल संसाधनों सहित बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में जियो-टेक्सटाइल के इस्तेमाल के लिए कर्मियों को प्रशिक्षित करने को एक पायलट परियोजना को मंजूरी दे दी है। जियो-टेक्सटाइल एक तरह का फ्रैबिक होता है जिसे मिट्टी के मिलाकर इस्तेमाल करने पर एक मजबूत फ्रैबिक का निर्माण होता है। इसे आमतौर पर पॉलीप्रोपीलिन या पॉलिस्टर से बनाया जाता है। परियोजना का संचालन भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी), बेंगलोर, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की समानांतर रूप से करेंगे। एक आधिकारिक बयान में कहा गयानयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) विद्युत संयंत्रों में कोयले की कमी के बीच बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को भरोसा जताया कि देश में बिजली की कोई कमी नहीं होगी। साथ ही उन्होंने बिजली आपूर्ति के लिये वितरण इकाइयों द्वारा उत्पादक कंपनियों को समय पर भुगतान पर जोर दिया। देश भर में तापीय बिजली घरों में कोयले की कमी को देखते हुए मंत्री का यह बयान महत्वपूर्ण है। एक्सचेंज में नवीकरणीय ऊर्जा की बिक्री के लिये एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार (ग्रीन डे अहेड मार्केट) की ‘ऑनलाइन’ शुरुआत करने के बाद सिंह ने संवाददाताओंम्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


लूडो गोल्ड APK
लाइव रूले पोकरस्टार
खुश किसान ऐप
खेल 610
क्रिकेट 4k
कैसीनो के दिनों में
रूले नृत्य
लाइव रूले स्पिन परिणाम
खजाना कटोरा
चिकित्सा में पाँच प्रश्नों में से सर्वश्रेष्ठ
स्पोर्ट्स औक्स पुसेस
कैसीनो सी ऑनलाइन खेल
आईपीएल यूएई शेड्यूल 2021
चेस टिप्स
fun88 डोटा 2
स्टैंड-अलोन जुआ खेल डाउनलोड
लूडो जोन
मा लॉटरी ऑनलाइन
सर्वश्रेष्ठ पाँच साहित्यिक कृतियाँ क्रॉसवर्ड क्लू
स्लॉट्स एन बेट्स
lovebet जाम्बिया लॉगिन
जंगल रम्मी विकी
lovebet क्रिकेट नियम
lovebet न्यूनतम जमा
पोकर प्लेस
जैकपॉट तोरी
स्लॉट मशीन बॉर्डरलैंड 2